इस ब्लॉग पर आपका स्वागत है.. कृपया पुनः पधारें !

Saturday, 12 November 2011

मेरा पसंदीदा कार्टून ...पोलपट्टी..!

दोस्तों, कार्टून तो मैनें हजारों बनाये हैं पर कुछ कार्टून मुझे भी पसंद हैं..उनमे से एक आपके लिए यहाँ प्रस्तुत है-
                                          *****************************************

Friday, 11 November 2011

देखिये महंगाई का आईना..पोलपट्टी..!

                                                      **************************

Thursday, 10 November 2011

देश की जनता का चिर-हरण..पोलपट्टी..!


                                            ***************************************

Sunday, 6 November 2011

यह कार्टून मेरे बेटे सैम ने बनाया ..

 यह मेरे बेटे का एक प्रयास है..अपने पापा के नक़्शे-कदम पर चलने का..आपको यह कार्टून कैसा लगा? आपकी एक टिपण्णी सैम का मनोबल बढ़ाएगी..धन्यवाद... !

                                     *********************************************

CARTOON DHAMAKA: ये कैसा नशा है ....कार्टून धमाका...

CARTOON DHAMAKA: ये कैसा नशा है ....कार्टून धमाका...

महंगाई का बूस्टर डोज़ ..पोलपट्टी..



                     आपकी एक टिपण्णी हमें आत्मबल देती है ..अपनी राय जरुर व्यक्त करें ...धन्यवाद !

Thursday, 3 November 2011

टीवी चैनलों के बेईमानों से ....सावधान !

कल ही की बात है एक स्पोट्स चैनल पर देखा एक एंकर चिल्ला रहा था ...ध्यान से देखिये इस फोटो को  ( स्क्रीन पर एक फोटो दिख रही थी जिसका आँखों से निचे का चेहरा कुछ इस तरह..........
...से नज़र आ रहा था...जाहिर है आप तो क्या एक छोटा बच्चा भी बता देगा की ये महेंद्र सिंह धोनी हैं ) और बताइए की ये फोटो किसकी है ...देर मत कीजिये फटाक से हमें कॉल कीजिये और जीतिए 10,000 नगद ईनाम..बस 
एक सही कॉल आपको देगा पूरे 10,000/- .
                     फिर लगातार कई कॉल आते हैं पर...सही जवाब कोई नहीं दे 
पाता है कोई कहता है ये सौरभ गांगुली हैं तो कोई कहता है ये विराट कोहली 
हैं किसी को ये सहवाग नज़र आते हैं..इस बीच ईनाम की रकम भी बढ़ा दी 
जाती है, तब भी कोई सही नहीं बता पाता है फिर कई हिंट्स दिए जाते हैं जैसे- 
फोटो को बड़ा करके दिखाते हैं..इनका नाम एम् से शुरू होता है ..काफी देर तक फिर भी सही जवाब नहीं आता है कोई मुंबई से कॉल करता है तो कोई पटना से कोई भोपाल से कोई दिल्ली से लगभग एक घंटे तक कई कॉल लेने के बाद तब एक हिन्दुस्तान के सबसे चतुर और तेज नज़र व्यक्ति का कॉल आता है और सही  जवाब मिलता है - महेंद्र सिंह धोनी!
असल मामला क्या है ?
दरअसल इस तरह के ईनाम जीतो खेल कई बड़े और नामी चैनलों पर खिलाये जा रहे हैं ..अभी एक ही चैनल पर      
दिन में यह तमाशा नज़र आया है ..ज्यादातर देर रात एक बजे कई चैनलों पर जनता को इस खेल के बहाने लूटने का दौर शुरू होता है 
कैसे लूटा जाता है आपका पैसा ?
ये लोग ऐसी फोटो चुनते है जिसे आसानी से एक छोटा बच्चा भी पहचान ले..सही जवाब के लिए आपको इनके 
बताये हुए नंबर पर कॉल करना होता है ( जिसके लिए निचे एक छोटी पट्टी चलती रहती है जिसपर बहुत ही छोटे शब्दों में जिसे आप शायद ही पढ़ पायें लिखा होता है प्रति मिनट कॉल दर 15/- रूपये !
आप आसानी से दिखाए जा रहे चेहरे को पहचान जाते हैं और उधर हर कॉल पर गलत जवाब की बरसात होती 
रहती है..बस यहीं पर आप फंसा लिए जाते हैं और आप सही जवाब देने के लिए कॉल कर देते हैं ..आपका कॉल तुरंत लग भी जाता है और आपको दो तीन मिनट तक कुछ और सवालों में उलझा लिया जाता है फिर आपका 
जवाब ले कर आपको इन्तजार करने को कहा जाता है..फिर जब सही जवाब के नाम की घोषणा होती है तो उसमे आपका नाम नहीं होता है...सबसे पहले सही जवाब कोई और देता है ..और उसी के नाम की घोषणा होती है ..इधर जब आप अपने मोबाइल का बैलेंस चेक करते हैं तो पता चलता है की 40-45 रूपये काट लिए गए है इस तरह से आपको बड़ी सफाई से मोबाइल कंपनी और चैनल कंपनी की सांठ-गांठ लूट लेती है..हमारे देश के 
हजारों लोग जिनमें गरीब मध्यमवर्गीय शामिल हैं ..रोज जाने-अनजाने इस खेल में लूट लिए जा रहे हैं !
लूटने का तरीका यह है -
फोटो दिखाए जाने के बाद आपको एक-दो मिनट में कॉल कर जवाब देना होता है ..समय सीमा में एक दो कॉल आते हैं जिनका उत्तर गलत होता है - दरअसल गलत उत्तर जानबूझकर दिए जाते हैं और उसी चैनल के लोग स्टूडियो से ही फ़ोन कर गलत उत्तर थोड़ी-थोड़ी देर में देते रहते हैं ..आप और हम जैसे सीधे साधे लोग इसी गलत जवाब के कारण जाल में फाँस लिए जाते हैं ..जाहिर है उत्तर आसान होता है अतः हम फ़ोन लगा देते हैं 
और 40-50 रूपये लूटा बैठते हैं ...इस तरह रोज सैकड़ों कालों के द्वारा लाखों रूपये जनता से ठग लिए जाते हैं 
विडंबना यह है की सही जवाब भी स्टूडियो में बैठा इनका ही बंदा कॉल कर देता है ..और एक पैसा भी ईनाम 
के नाम पर किसी को नहीं दिया जाता है ! धड़ल्ले से यह खेल जारी हैं ..कोई रोकने वाला नहीं ..सरकार भी मौन 
आम आदमी भी मौन ..मैं इसका पुरजोर विरोध करता हूँ ..इसीलिए ये पोस्ट आप तक पहुंचा रहा हूँ ..कृपया इस 
पोस्ट को एक लिंक बनाकर दूर- दूर तक पहुंचाएं हर ब्लॉग तक पहुंचाएं ..इस मुहीम में मेरा साथ देकर एक 
पवित्र कार्य में हाथ  बटाएं..आभार ...!    

Saturday, 22 October 2011

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...